आज़म खान के बचाव में उतरे अखिलेश यादव, कही ये बड़ी बात

रामपुर से सपा के उम्मीदवार आज़म खान के विवादित बयान पर, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अब उनका बचाव किया है. गौरतलब है कि जब से आज़म खान ने जया प्रदा पर विवादित बयान दिया है, तब से प्रदेश के साथ-साथ पुरे देश में इसको लेकर बवाल मचा हुआ है. वहीं अब उनके बचाव में उनके ही पार्टी के नेता उतर गए है.

गौरतलब है कि रविवार को दिए गए आज़म खान के बयान पर, उम्मीद की जा रही थी कि अखिलेश यादव को इसको लेकर कोई कार्यवाई या माफ़ी मांग सकते है. लेकिन इसके ठीक उल्ट अब अखिलेश यादव ने अब आज़म खान के बयान पर सफाई देते हुए कहा कि ‘वो(आज़म खान) किसी और के बारे में बात कर रहे थे. हम लोग समाजवादी हैं, हम किभी भी किसी महिला के खिलाफ गलत भाषा का इस्तेमाल नहीं करते हैं.

आपको बता दें कि वहीं जब मीडिया ने इसको लेकर आज़म से सवाल किया तो वो मीडिया पर ही भड़क गए. उन्होंने कहा कि आप के वालिद के जनाज़े में आया हूं. आपको बता दें कि इस से पहले जया प्रदा ने कहा कि उन्हें (आज़म खान) को चुनाव नहीं लड़ने दिया जाना चाहिए क्योंकि अगर यह शख्स जीत गया तो लोकतंत्र का क्या होगा? महिलाओं के लिए समाज में कोई जगह नहीं होगी. हम कहां जाएंगे? क्या मैं मर जाऊं तब आपको संतुष्टि मिलेगी? आपको लगता है कि मैं डर जाऊंगी और रामपुर छोड़ दूंगी? लेकिन मैं नहीं छोड़ूंगी. जया इस बयान का जवाब देते हुए भावुक हो गई उन्होंने आगे कहा कि ‘उनका बयान गाली की तरह है, क्या इनके घर में मां, पत्नी, बहू नहीं हैं? अब आजम खान मेरा भाई नहीं है.

वहीं इस विवाद की शुरुआत उस वक़्त हुई जब आज़म खान ने रामपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि, जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे प्रतिनिधित्व कराया…उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका अंडरवियर खाकी रंग का है.

ये भी पढ़ें : बसंती को वोट दिलाने के लिए ‘वीरू’, बोले- गांव वालों हेमा को वोट नहीं दिया तो पानी की टंकी पर चढ़ जाऊंगा