बीजेपी ने लगाया ये आरोप, अमित शाह के रोड शो में हिंसा पर टीएमसी ने वीडियो जारी कर दिए सबूत

Amitshah

लोकसभा चुनावों का दौर है ऐसे में गरमा-गरमी तो बनना आम बात है। लोकसभा चुनाव जीतने को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने एक दूसरे को हराने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। अंतिम चरण में वोच 19 मई को डाले जाएंगे, 23 मई को देशभर की सीटों के नतीजे आएंगे। वहीं देखा जा रहा है कि कोलकाता में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पूरे देश में चर्चा का विषय बन गई है।

चुनावी माहौल में कोलकाता की सड़कों पर सरेआम जो उत्पात मचाया गया, उससे जुड़े कुछ वीडियो सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने जारी किए हैं, इस वीडियो में बड़ी तादाद में लोग आगजनी करते हुए दिखाई दे रहे हैं। टीएमसी के वीडियो जारी करने के बाद बीजेपी की ओर से भी वीडियो जारी किया गया और टीएमसी पर आरोप लगाया गया।

तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओब्रायन ने ये तीन वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट से जारी किए हैं और आरोप लगाया है कि कैसे अमित शाह के रोड शो के दौरान बीजेपी के गुंडे उत्पात मचा रहे हैं। इन वीडियो को ओब्रायन ने तीन सबूत के तौर पर पेश किया है।पहले वीडियो में दिखाई दे रहा है कि बीजेपी का झंडा लगी कुछ गाड़ियां सड़क से गुजर रही हैं और भगवा रंग की कमीज पहने, हाथ में बीजेपी का झंडा लिए और सिर पर भगवा साफा बांधे हुए कुछ लोग सड़क किनारे खड़े वाहनों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इनमें से कुछ के हाथ में डंडे हैं तो कुछ पत्थर फेंकते हुए भी दिखाई दे रहे हैं, इसी दारौन सड़क किनारे खड़े वाहन से आग की लपटे उठती हुईं दिखाई दे रही हैं।

दूसरा वीडियो भी इसी आगजनी का है जो अलग एंगल से रिकॉर्ड किया गया है, इस वीडियो में जलते हुए वाहन के करीब मौजूद भीड़ में कुछ लोग डंडे से वहां खड़े दूसरे वाहन को निशाना बना रहे हैं। साथ ही पहले से जल रहे वाहन में एक दूसरा वाहन जलने के लिए डालते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसके अलावा तीसरे वीडियो में भीड़ का उत्पात दिखाया गया है, इन तीनों वीडियो को डेरेक ओब्रायन ने तीन सबूत बताए हैं. उन्होंने सीधे तौर पर हिंसा के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है।बीजेपी वीडियो जारी कर दिए ये सबूतBJP IT सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने भी वीडियो जारी कर TMC पर अमित शाह के रोड शो में हिंसा फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने वीडियो जारी करते हुए लिखा कि TMC समर्थकों ने अमित शाह के रोड शो में व्यवधान पैदा किया जिससे हालात बिगड़ते चले गए।

बता दें कि 19 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान से पहले अमित शाह ने 14 मई को कोलकाता में रोड शो किया। अमित शाह के रोड शो में भाजपा कार्यकर्ताओं ने नाचते-गाते और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाते हुए हिस्सा लिया।
यह जुलूस मध्य कोलकाता के शहीद मीनार से शुरू होकर धर्मतल्ला क्रॉसिंग, लेनिन सरणी और सुबोध मलिक चौराहे तक निकाला गया और इस दौरान कार्यकर्ताओं ने लगातार ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए, लेकिन रोड शो का अंत होते-होते बीजेपी व टीएमसी के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए, इस दौरान आगजनी भी की गई और ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति भी तोड़ दी गई।बीजेपी तृणमूल कांग्रेस पर लोकतंत्र को ताक पर रखने का आरोप लगा रही है तो अब टीएमसी ने कुछ वीडियो जारी कर बीजेपी कार्यकर्ताओं पर ही उत्पात मचाने का आरोप लगाया है।