सीएसके मैनेजमेंट बीसीसीआई के रडार पर, यह वजह चुभ रही है बोर्ड की आंखों में

IPL 2020: वीरवार को हो चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के एक टीम इंडिया के तेज गेंदबाज सिह उसके स्टॉफ के 12 सदस्यों के कोविड-19 (Covid-19) पीड़ित पाने के बाद बीसीसीआई (BCCI) ने इस पर चिंता जतायी है. इस घटना के बाद आईपीएल (IPL 2020) में हिस्सा लेने पहुंचीं टीमों में डर का माहौल है. सूत्रों की मानें, तो बीसीसीआई (BCCI) ने यूएई के लिए रवाना होने से पहले चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) द्वारा आयोजित पांच दिनी कैंप को लेकर चिंता जाहिर की. जाहिर है कि इस खबर के बाद सीएसके का यह पांच दिनी कैंप रडार पर आएगा ही आएगा और इसको लेकर तमाम सवाब-जवाब होंगे. चेन्नई के लिए शनिवार का दिन भी मुसीबत बनकर आया और आज भी उसके एक बल्लेबाज के कोविड-19 टेस्ट में पॉजिटिव होने की खबर आयी है.

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि सीएसके की टीम ने पांच दिन के शिविर के दौरान तीन दिन नेट अभ्यास किया. ऐसे में सवाल यह है कि क्या खिलाड़ी और स्टॉफ के सदस्यों में संक्रमण इस वजह से हुआ? बता दें कि सीएसके मैनेजमेंट ने इस अभ्यास के लिए राज्य सरकार से अनुमति ली थी, लेकिन इस तथ्य को अनदेखा नहीं किया जा सकता जहां शिविर लग था, वह जगह हॉटस्पॉट क्षेत्र के तहत आती है. अभी तक तमिलनाडु में चार लाख से भी ज्यादा कोरोना संक्रमित केस पाए जा चुके हैं.

अभी तक यह साफ नहीं हो सका है कि बीसीसीआई टीम इंडिया के खिलाड़ी और 12 स्टॉफ के सदस्यों के नामों को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी करेगा, लेकिन सूत्रों की मानें, तो बीसीसीआई के अधिकारियों ने इस मुद्दे को लेकर सीएसके मैनेजमेंट से बात की है. वहीं, फ्रेंचाइजी ने भी इस बाबत ऑफिशियल बयान जारी नहीं किया गया है, लेकिन सूत्रों के अनुसार संख्या 12 से 13 तक है

अधिकारी ने कहा कि हाल ही में भारत के लिए खेलने वाला दाएं हाथ का गेंदबाज कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. और उसके साथ ही स्टॉफ के भी कुछ सदस्य पॉजिटिव आए हैं. कुल मिलाकर यह आंकड़ा 12-13 तक हो गया है. इस हालात ने चेन्नई ने अपनी क्वारंटीन अवधि 1 सितम्बर तक बढ़ा दी है.  वैसे जहां हालात को लेकर बीसीसीआई के अधिकारियों में तनाव की स्थिति बनी हुई है, तो वहीं लीग के आयोजन को लेकर कोई खतरा नहीं है. वैसे बता दें कि बीसीसीआई ने अभी भी टूर्नामेंट का शेड्यूल जारी नहीं किया है और कौन जानता है कि 19 सितम्बर से शुरू होने वाले टूर्नामेंट का कार्यक्रम बदल जाए.