IPL 2020 से CSK की विदाई, धोनी बोले- अब समय आ गया है, ‘मुख्य खिलाड़ियों’ में बदलाव करने का..

IPL 2020: चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने इंडियन प्रीमियर लीग में पहली बार प्लेऑफ (IPL 2020 Playoffs) में जगह बनाने में नाकाम रहने के बाद रविवार को कहा कि टीम को ‘मुख्य खिलाड़ियों’ में बदलाव करना होगा. चन्नई ने लीग चरण के अपने आखिरी मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) को 9 विकेट से हराकर आईपीएल के अपने 11 सत्र में सबसे बुरे अभियान को जीत के साथ खत्म किया. टीम के लिए एकमात्र सकारात्मक पक्ष युवा बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ की लगातार तीन मैचों में तीन अर्धशतकीय पारी रही. तीन बार की चैम्पियन टीम के कप्तान ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमें अपने मुख्य खिलाड़ियों में थोड़ा बदलाव करके अगले 10 साल की योजना बनानी होगी. आईपीएल की शुरूआत (2008) में हमने ऐसी टीम बनायी थी जिसने 10 वर्षों तक अच्छा खेल दिखाया। अब समय अगली पीढ़ी को जिम्मेदारी देने का है.

चेन्नई के 39 साल के इस कप्तान ने कहा, ‘‘प्रशंसकों से कहना चाहूंगा कि हम मजबूती से वापसी करेंगे। हम इसी के लिए जाने जाते है. धोनी ने इस टूर्नामेंट के दौरान कई खिलाड़ियों को अपनी जर्सी दी जिसके बाद ऐसे कयास लगाये जा रहे थे कि वह संन्यास की घोषणा कर सकते है. चेन्नई सुपर किंग्स रविवार को वर्तमान सत्र में जब अपना अंतिम लीग मैच खेलने के लिये उतरा तो भारत के विश्व कप विजेता कप्तान ने स्पष्ट किया कि यह उनका इस फ्रेंचाइजी की तरफ से आखिरी मैच नहीं है. न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डैनी मॉरीसन ने जब धोनी से पूछा कि क्या किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच चेन्नई की तरफ से उनका आखिरी मैच है, उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर नहीं.

धोनी ने कहा, ‘‘शायद मेरे जर्सी देने से ऐसा संदेश गया कि मैं संन्यास ले रहा हूं. टूर्नामेंट में आठ मैचों में हार का सामना करने वाले धोनी ने कहा, ‘‘यह हमारे लिये मुश्किल अभियान रहा. हमने कई गल्तियां की. आखिरी के चार मैच ये दिखाते है कि हम कैसा प्रदर्शन करना चाहते है. उन्होंने कहा, ‘‘लगभग 7-8 मैचों तक पिछड़ने के बाद जिस तरह से हमने वापसी की उससे खिलाड़ियों पर गर्व है. यह काफी मुश्किल है.  उन्होंने कहा, ‘‘ काफी कुछ इस बात पर निर्भर करेगा कि बीसीसीआई खिलाड़ियों की नीलामी आयोजित करता है या नहीं. हमारे लिये यह काफी मुश्किल सत्र रहा. धोनी ने मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले 23 साल के रुतुराज गायकवाड़ की तारीफ की.

उन्होंने कहा, ‘‘रुतुराज ने नेट सत्र में अच्छा किया था लेकिन शुरूआती मैचों में हम उसके प्रदर्शन को नहीं देख सके. वह कोविड-19 की चपेट में आ गया और लगभग 20 दिनों तक बीमार रहा.’ उन्होंने कहा, ‘‘ इसी वजह से हमे फाफ डुप्लेसिस और शेन वाटसन से पारी का आगाज कराना पड़ा.  यह प्रयोग सफल नहीं हुआ. लेकिन ऐसे समय में आप अनुभवी खिलाड़ियों से उम्मीद करते है.