राजस्थान: डीजे बजाने पर दलित कांस्टेबल की बारात पर किया हमला, पुलिस के पहरे में निपटी शादी

राजस्थान के जोधपुर ज़िले के दुगर गांव में हालात उस वक्त तनावपूर्ण हो गए, जब एक दलित कॉन्सटेबल की बारात पर गांव में ही रहने वाले कुछ सवर्ण जाति के लोगों ने हमला कर दिया। मामला जब ज़्यादा बिगड़ा तो मौके पर पुलिस पहुंची और पुलिस के पहरे में दलित कॉन्स्टेबल की शादी कराई गई।

दरअसल, लोरड़ी देजगरा के रहने वाले कॉन्सटेबल सवाईराम की शादी दुगर गांव के नेताराम मेघवाल की बेटी से होनी थी। 9 फरवरी की शाम जैसे ही बारात गांव में पहुंची तो बाराती डीजे और ढोल नगाड़ों की धुन पर डांस करने लगे। तभी वहां कुछ सवर्ण जाति के लोग आए और उन्होंने बारात में शामिल लोगों को जातिसूचक शब्द कहते हुए अपमानित किया।

जब लोगों ने विरोध किया तो आरोपियों ने गाली-गलौज करते हुए धारदार हथियारों से हमला कर दिया। सवाईराम ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा कि सवर्ण जाति के लोग जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे। जब उन्हें रोकने की कोशिश की गई तो उन्होंने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। इतना ही नहीं, आरोपियों ने गाड़ी चला रहे ओमप्रकाश नाम के व्यक्ति की पिटाई भी कर दी।

इस दौरान कुछ लोगों ने बारात पर पथराव भी कर दिया। इस पथराव में अर्जुन, सागरराम, श्रवणराम और भवानी सिंह नाम के बाराती घायल भी हो गए। गाड़ियों के शीशे तोड़ डाले गए। इस हमले में कई बारातियों को चोटें भी आई। जानकारी मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को अपने काबू में किया। उसके बाद पुलिस के पहरे में ही फेरे और दुल्हन की विदाई हुई। पुलिस ने इस मामले में अब तक सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here