सर्जिकल स्ट्राइक 2.0: जैश के ये 5 खूंखार आतंकी थे भारतीय वायु सेना के निशाने पर

भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान पर कार्यवाई करते हुए आज एक हवाई हमला किया. जिसमे पाकिस्तान की जमीन पर पलने वाले कई खूंखार आतंकी मारे गए. इस हमले का निशाना जैश के आतंकियों का ठिकाना था. जो इस हवाई कार्यवाई में नेस्तेनाबूद हो गये. वहीं इस एयर स्ट्राइक के निशाने पर जैश के 5 मुख्य आतंकी थे.

indian air force

इस हमले का निशाना बने पांच मुख्य आतंकी ये हैं-

 

  1. मौलाना अम्मार- जैश के आका मसूद अजहर का भाई जो कश्मीर और अफगानिस्तान में आतंकी वारदातों से जुड़ा रहा है

 

  1. मौलाना तल्हा सैफ- मसूद अजहर का भाई और प्रचार विभाग का प्रमुख

 

  1. मुफ्ती अजहर खान कश्मीरी- कश्मीर ऑपरेशन का प्रमुख

 

  1. इब्राहीम अजहर- मौलाना मसूद अजहर का बड़ा भाई

 

  1. यूसुफ अजहर- मसूद अजहर का साला और प्रशिक्षण केंद्र का प्रमुख

 

आपको बता दें की मंगलवार तड़के 3.30 बजे भारतीय वायु सेना के 12 ‘मिराज 2000’ लड़ाकू विमानों ने पाक अधिकृत कश्मीर में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर लगभग 1000 किलो विस्फोटक गिराने के साथ ही उनको तबाह कर दिया.

ये भी पढ़ें : भारतीय वायूसेना की ताकत बढ़ाने आ गए चिनूक हैलिकॉप्टर, ये हैं इसकी खासियतें

गौरतलब है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का ट्रेनिंग कैंप पाकिस्तान के बालाकोट में चल रहा था. इसका करता कर्ता-धर्ता मौलाना युसूफ अज़हर उर्फ़ उस्ताद गौरी था. जो मौलना मसूद अज़हर की निगरानी में इस कैंप का संचालन करता था. मसूद अज़हर रिश्ते में जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर का साला है. वो काफी समय से जैश के साथ काम कर रहा था. लेकिन सभी आतंकी घटनाओं में उसका नाम नहीं आता था सिवाय एक. वो है 1999 का कंधार विमान हाईजैक कांड. जिसमे आतंकी युसूफ अज़हर शामिल होने के साथ उस हाईजैकिंग टीम को लीड भी कर रहा था. इस विमान अपहरण का मकसद मसूद अज़हर को भारत से रिहा करना था. मसूद को छुड़ाने के बाद युसूफ को बालाकोट में मौजूद आतंकी ट्रेनिंग कैंप की जिम्मेदारी दी गई. यूसुफ मंगलवार को इंडियन एअर फोर्स के हमले में मारा गया. उसके साथ ही जैश के कई टॉप कमांडर और ट्रेनर भी मारे गए.

विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया जैश-ए-मोहम्मद भारत में एक और आत्मघाती आतंकी हमला करने की साजिश कर रहा था. ये जानकारी विश्वसनीय सूत्रों से मिली थी. जिसके बाद भारतीय वायु सेना ने जैश के कैंप पर बमबारी कर उन्हें तबाह कर दिया.