नोएडा की सड़कों पर पहली बार नज़र आए बापू, दिया इतना प्यारा संदेश

नोएडा विकास प्राधिकरण की तरफ से सीएसआर यानि कॉरपोरेट सोशल रेस्पॉन्सबिलिटी के तहत, सेक्टर 6 के औद्योगिक क्षेत्र में संदीप पेपर मिल नाम की सभी दीवारों पर खूबसूरत चित्रकारी कराई गई है। इस चित्रकारी के ज़रिए क्षेत्र के लोगों को स्वच्छता का संदेश देने का प्रयास किया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नोएडा की स्थापना 1976 में हुई थी और तब से लेकर अब तक यहां महात्मा गांधी की ना तो कोई मूर्ति और ना ही कोई पेंटिग बनाई गई थी।

महात्मा गांधी को स्वच्छता का प्रतीक माना जाता है। महात्मा गांधी से जुड़ी चीज़ों और उनके चश्मे की तस्वीर बनवाई गई है। नोएडा विकास प्राधिकरण के महाप्रबंधक राजीव त्यागी के अनुसार, जिस जगह पर महात्मा गांधी की ये तस्वीरें बनवाई गई हैं, उस जगह से बड़ी संख्या में ट्रैफिक गुज़रता है। इस ट्रैफिक को ध्यान में रखते ही यहां पर ये पेंटिग्स बनवाई गई हैं। ताकि लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हो सकें।

इन पेंटिग्स को बनाने वाले कलाकारों के अनुसार, उनका उद्देश्य इन चित्रों द्वारा महात्मा गांधी के विचारों को याद दिलाकर स्थानीय लोगों और इलाके में आने वाले अन्य लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना है।

इन पेंटिग्स को न्यू आर्ट नाम की एक संस्था ने बनाया है। इस संस्था के सह संस्थापक प्रतीक सचान कहते हैं कि बीती 1 जनवरी को इन पेंटिग्स को बनाने का कार्य शुरू किया गया था। स्थानीय लोगों को उनकी बनाई महात्मा गांधी की ये पेंटिंग्स पसंद आ रही हैं और लोग उनके इस कार्य की तारीफें कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here