आखिर क्यों पहले चाकू फिर सिर पर पत्थर मारा, ओला कैब ड्राइवर ने ली मॉडल की जान

बेंगलुरु के केंपेगौड़ा एयरपोर्ट के नजदीक एक ओला कैब ड्राइवर ने मॉडल की हत्या कर दी. पश्चिम बंगाल की मॉडल (32 वर्षीय) कम इवेंट मैनेजर पूजा सिंह डे की ड्राइवर ने उस वक्त हत्या कर दी जब वह एयरपोर्ट की ओर जा रही थीं. कैब ड्राइवर ने पहले तो पूजा के साथ लूटपाट करने की कोशिश की और नाकाम होने पर उनकी जान ले ली. पुलिस ने 21 अगस्त को ड्राइवर नागेश को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस के मुताबिक पूजा एक इवेंट के सिलसिले में 30 जुलाई को वह बेंगलुरु आई थीं और वह वापस पश्चिम बंगाल जा रही थीं, इसी दौरान उनकी हत्या कर दी गई. पूजा पर कई बार चाकू से हमला किया गया. उनके सिर पर चोट के निशान भी पाए गए हैं. इलाकाई गांव वालों को उनकी लाश एयरपोर्ट के नजदीकी इलाके में मिली जिसके बाद उन्होंने पुलिस को इसके बारे में सूचित किया.

पुलिस इस मामले में तकरीबन एक महीने तक उलझी रही लेकिन आखिरकार पूजा की टाइटन घड़ी, ‘Jealous 21’ जींस और उन ब्रांडेड सैंडल्स की मदद से केस हल कर लिया. पुलिस ने बताया कि उस दिन पूजा ने एयपोर्ट पहुंचने के लिए ओला कैब बुक की थी. ड्राइवर गाड़ी को दूसरे रास्ते पर ले गया और सुनसान जगह पर ले जाकर उसने गाड़ी रोक दी. ड्राइवर ने पैसे मांगे और पूजा ने पैसे देने से इनकार कर दिया.

इसके बाद ड्राइवर ने जैक रॉड से उन पर हमला कर दिया जिसके पास पूजा ने होश खो दिया. कैब ड्राइवर को पूजा से 500 रुपये और 2 मोबाइल फोन्स मिले थे लेकिन अब वह इससे निजात पाना चाहता था. ड्राइवर जब पूजा को लेकर तयशुदा जगह पहुंचा तो वहां जाते हुए वह होश में आ गई और बचाव के लिए ड्राइवर पर जवाबी हमला कर दिया. इसके बाद ड्राइवर ने पूजा को कई बार चाकू मारा और फिर उसके सिर पर पत्थर मार दिया.

पुलिस को नागेश पर शक था इसलिए वह उसे उठाकर ले गई और लंबे वक्त तक चली पूछताछ और ग्रिलिंग के बाद नागेश ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया.