पाकिस्तान के तेज गेंदबाज ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से लिया संन्यास, ट्वीट कर हुए इमोशनल

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज उमर गुल (Umar Gul) ने शनिवार को राष्ट्रीय टी20 कप के समापन के बाद क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की. गुल ने पाकिस्तान की तरफ से अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच (वनडे) 2016 में खेला था. वह राष्ट्रीय टी20 कप में बलूचिस्तान का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उनकी टीम शुक्रवार को रावलपिंडी में सदर्न पंजाब से हारकर सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गयी. गुल ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, ‘‘भारी मन से और काफी सोच विचार करने के बाद मैंने राष्ट्रीय टी20 कप के बाद क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने का फैसला किया है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं हमेशा पाकिस्तान के लिये पूरे जुनून और जज्बे के साथ खेला। क्रिकेट हमेशा मेरा पहला प्यार रहेगा लेकिन सभी अच्छी चीजों का एक न एक दिन अंत होता है.

पेशावर में जन्में 36 वर्षीय गुल ने 2003 में वनडे में पदार्पण किया। उसी वर्ष उन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच खेला। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2013 में खेला था. गुल ने 47 टेस्ट मैचों में 34.06 की औसत से 163 विकेट लिये। उन्होंने 130 वनडे में 179 विकेट और 60 टी20 अंतरराष्ट्रीय में 85 विकेट लिये हैं.

उमर गुल (Umar Gul) के करियर का बुरा दौर 2011 वर्ल्ड कप के बाद से शुरू हुआ. बता दें कि 2011 के वर्ल्ड कप में सहवाग ने गुल के ओवर में 5 चौके जड़े थे. सहवाग ने अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से गुल के गेंदबाजी लेंथ को बिगाड़ कर रख दिया था. बता दें कि गुल ने ट्वीट कर अपने संन्यास की घोषणा की, उन्होंने अपने ट्वीट में पाकिस्तनी बोर्ड को शुक्रिया कहा और साथ ही उनके साथ खेले हर एक खिलाडी़ को योगदान में साथ देने के लिए धन्यवाद कहा है.

उमर गुल ने अपने ट्वीट में फैन्स और मीडिया को भी शुक्रिया कहा. गुल ने अपने ट्वीट में लिखा कि काफी सोचने के बाद आंखों में नमी लेकर उन्होंने संन्यास लेने का फैसला किया है.