दिल्ली के साकेत कोर्ट में फिर पुलिसकर्मियों पर हमला, 2 आरोपी पकड़े गए एक वकील की तलाश

दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों की भिड़ंत और फिर साकेत कोर्ट के बाहर एक पुलिसकर्मी की पिटाई का वायरल वीडियो शायद ही कोई भूला हो. अब दिल्ली के साकेत कोर्ट में 2 पुलिसकर्मियों के ऊपर फिर हमला हो गया है. एक असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर का चश्मा तोड़ दिया तो वहीं एक कांस्टेबल को पिटाई की गई. आरोपी पुलिसवालों का मोबाइल भी ले गए. पुलिस ने बताया शुक्रवार रात साढ़े नौ बजे साकेत कोर्ट में गेट नंबर दो के पास झगड़े की सूचना मिली. जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि पुलिस पोस्ट साकेत में तैनात कांस्टेबल हितेश की ड्यूटी गेट नंबर दो पर रात आठ से सुबह आठ बजे तक ड्यूटी थी. साढ़े आठ बजे एक कार कॉम्पलेक्स में आ रही थी, जिसे कोर्ट के गार्ड ने रुकवा लिया था. इस बात को लेकर चालक की गार्ड से बहस हो गई थी. जिस पर गार्ड ने कांस्टेबल हितेश को वहां बुला लिया था. कार सवार लोगों ने कहा वे वकील से मिलने के लिए आए हैं. पुलिस वैरिफिकेशन के बाद इस कार को अंदर जाने की अनुमति दी गई थी.

कुछ देर बाद कार वापस आई जिसमें अन्य लोग गाड़ी में बैठे हुए थे. कार सवार ने कांस्टेबल हितेश की तरफ इशारा कर कहा कि उसी ने गाड़ी को रोककर चैकिंग की थी. कार से बाहर निकल कर एक शख्स ने कांस्टेबल के ऊपर हमला कर दिया. कांस्टेबल ने मौके पर ASI कैलाश को बुला लिया. इस पुलिसकर्मी ने स्थिति को संभालने का प्रयास किया, जहां उसे भी धक्का देकर जमींन भी गिरा दिया गया. उसका चश्मा टूट गया और मोबाइल नीचे गिर गया. यह फोन आरोपियों ने बाद में उठा लिया था.

इस घटना के बाद कार सवार आरोपी मौके से फरार हो गए. बाद में दोनों पुलिसकर्मियों को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया. सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार दो लोगों को गिरफ्तार किया है,आरोपियों की पहचान संगम विहार निवासी अनुज गौड़ और हितेश उर्फ सन्नी के तौर पर की गई है. आरोपी अनुज इस थप्पड़ कांड के मुख्य आरोपी और वकील का मुंशी बताया जा रहा है. जिसके पास से पुलिस ने पीड़ित एएसआई का मोबाइल बरामद कर लिया है. फिलहाल मुख्य आरोपी वकील चिन्मय सेजवाल और विनय नागर की तलाश जारी है. पुलिस के मुताबिक वकील चिन्मय सेजवाल पहले भी लाडो सराय में एक झगड़े के मामले में गिरफ्तार हो चुका है.