Breaking news- ट्रैफिक नियम तोड़ना पुलिसवालों को पड़ा भारी, इंस्पेक्टर का भी कटा चालान

नए मोटर व्हीकल एक्ट की चर्चा इन दिनों पूरे देश में है. यूपी पुलिस भी एक्शन में है. सोशल मीडिया पर अक्सर पुलिस वालों के ट्रैफिक नियम तोड़ने की तस्वीरें वायरल होती हैं. इसी को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में ट्रैफिक पुलिस ने ड्राइव चलाई है. इसमें सबसे ज्यादा नजर उन पुलिस वालों पर थी जिन्होंने ट्रैफिक नियम तोड़े थे. इसी ड्राइ के तहत पूरे मेरठ शहर में 51 पुलिस वाले ट्रैफिक नियम तोड़ते पाए गए जिनके चालान काटे गए.

मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने आजतक को इस खबर की पुष्टि की. उन्होंने बताया कि जो पुलिस वाले ट्रैफिक नियम तोड़ते पकड़े गए उनमें पूरे मेरठ शहर के अलग अलग थानों में तैनात 2 इंस्पेक्टर, 7 सब इंस्पेक्टर , कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल शामिल हैं. चालान काटने के अलावा इन पुलिस वालों को भविष्य में ट्रैफिक नियम ना तोड़ने की हिदायत भी दी गई है.

साथ ही विभाग में तैनात सभी सीनियर और जूनियर पुलिस वालों को ट्रैफिक नियम फॉलो करने के लिए जागरूक करने को कहा गया है. वहीं मेरठ पुलिस के एडीजी ने सभी पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को कहा कि ट्रैफिक नियम को ना तोड़ें वरना चालान भुगतना होगा.

बता दें ऐसे ही अहमदाबाद पुलिस और चंडीगढ़ पुलिस ने यातायात नियमों को तोड़ने वाले पुलिसकर्मियों को कड़ा संदेश देने और सबक सिखाने के लिए चालान काटे हैं. हाल ही में अहमदाबाद में पुलिसकर्मी विश्वास राठौड़ का बिना हेलमेट के बाइक चलाते और मोबाइल पर बात करने की तस्वीर वायरल हो गई थी.

यातायात नियमों को तोड़ने पर विश्वास राठौड़ का चालान काट दिया गया. उन पर 1100 रुपये का जुर्माना लगाया गया है. चालान में लिखा गया कि व्हाट्सऐप पर वायरल हुई तस्वीर के आधार पर विश्वास राठौड़ का चालान काटा गया है. हालांकि गुजरात में अभी तक नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू नहीं हुआ है, जिसके चलते विश्वास राठौड़ पर ज्यादा जुर्माना नहीं लगा है.