14 मार्च से चुनाव प्रचार अभियान के जंग में उतरेंगी प्रियंका गांधी

लोकसभा चुनाव के तारीखों के ऐलान के बाद सभी पार्टियां चुनावी जंग की तैयारी में जुट गई हैं। ऐसे में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी भी प्रचार का सिलसिला शुरू करने जा रही हैं।

14 मार्च से प्रियंका गांधी 2019 के लोकसभा चुनाव की शुरूआत करेंगी। खबर है कि प्रियंका इस अभियान की शुरूआत लखनऊ से करने वाली हैं। इसके साथ ही वह कांग्रेस के प्रत्याशियों के चयन में भी शामिल होंगी। बता दें कि प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश का जिम्मा दिया गया है।

आपको बता दें कि प्रियंका गांधी को अमेठी और रायबरेली के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी और योगी आदित्यनाथ का गढ़ कही जाने वाली गोरखपुर सीट की जिम्मेदारी सौंपी गई है। 23 जनवरी को प्रियंका और सिंधिया को महासचिव नियुक्त कर उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गयी थी।

कांग्रेस पार्टी ने उत्तर प्रदेश में खुद को मजबूत करने के लिए चुनाव प्रचार की रणनीति में बड़ा बदलाव किया है। ताजा रणनीति के तहत यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया बड़ी चुनावी रैलियां कम करेंगे। दरअसल पार्टी का मानना है कि रैली में वक्त और पैसा ज्यादा खर्च होता है।

प्रिंयका गांधी इस प्रचार अभियान को प्रभावी बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा रोड शो, नुक्कड़ सभा, मोहल्ला सभा और चौपाल करेंगी। जिससे कि वह अपनी बात जनता तक Emआसानी से पहुंचा सकें।

यूपी में लोकसभा की कुल 80 सीटें हैं। इसमें महागठबंधन ने पहले से ही अमेठी और रायबरेली की दो सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ दी हैं। साथ ही तीन सीटें राष्ट्रीय लोकदल को भी दी गई हैं। इसके अलावा एक सीट की जिम्मेदारी रालोद को दी गई है।

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, दिग्गज नेता राधाकृष्ण के बेटे बीजेपी में हो सकते हैं शामिल