राजस्थान: गुर्जरों के आरक्षण आंदोलन के बीच रेल और रोड ट्रैफिक प्रभावित, दिल्ली-मुंबई रूट की कई ट्रेनें डायवर्ट

राजस्थान के भरतपुर में फिर से शुरू हुए गुर्जर समुदाय के आरक्षण आंदोलन (Gujjar Community Agitation) के चलते सोमवार की सुबह तक यहां पर रेल और रोड ट्रैफिक सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. दिल्ली मुंबई के रूट पर चलने वाली कई ट्रेनों को डायवर्ट किया गया है. वहीं. राज्य ने एहतियातन आगरा-जयपुर के रूट पर अपनी बस सेवाओं को रोक दिया है. अधिकारियों ने बताया कि गुर्जर समुदाय के कुछ लोगों ने जयपुर से 180 किमी दूर भरतपुर में रेलवे ट्रैक पर जमावड़ा लगाया है. वो शिक्षा और नौकरी में आरक्षण की मांग कर रहे हैं.

गुर्जर नेता विजय बैंसला ने रविवार को कहा कि ‘हम अपनी मांगें पूरी होने और सरकार की ओर से इसे लेकर एक आदेश जारी होने तक अपना आंदोलन जारी रखेंगे. हमें इससे कम कुछ भी मंजूर नहीं है. युवा बेरोजगार हैं, 25,000 नौकरियां फंसी हुई हैं और इसके बारे में कोई बात नहीं कर रहा है.’

पश्चिमी रेलवे ने सोमवार को एक ट्वीट में प्रभावित रूट की लिस्ट साझा की और लिखा कि ‘गुर्जर आंदोलन के चलते उत्तर प्रदेश हिंडौन से राजस्थान के बयाना के बीच रेल सेवाएं रोक दी गई हैं.’

बता दें कि गुर्जर समुदाय साल 2007 से आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहा है. यह आंदोलन दो हिस्सों में बंटा हुआ है. हिम्मत सिंह गुर्जर के नेतृत्व वाला गुर्जर आरक्षण समिति और एक विजय बैंसला का आंदोलन. हिम्मत सिंह गुर्जर की समिति ने शुक्रवार को राजस्थान सरकार की कैबिनेट की उप-समिति के साथ सात घंटों से ज्यादा लंबी चली बैठक में 14 बिंदुओं पर सहमति जताई थी. हालांकि, दूसरा समूह अभी भी अपना आंदोलन जारी रखे हुए हैं.