जानिए कैसे मिश्री के उपयोग से दूर होती है ये दस बीमारियाँ …..

आपने मुंह का स्वाद ठीक करने के लिए ही मिश्री का इस्तेमाल किया होगा, लेकिन मिश्री आपके दिमाग के लिए भी बेहद ठीक है।

कुछ लोग मीठा खाने के शौकीन होते हैं और किसी भी चीज को मीठा बनाने के लिए चीनी का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन अगर आप चीनी के स्थान पर मिश्री का प्रयोग करेंगे तो यह आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद रहेगा। मिश्री को आयुर्वेद में कई बीमारियों के इलाज के लिए काम में लिया जाता है, जिसमें खांसी का नाम भी शामिल है।

आपको बता दें खांसी के इलाज में मिश्री अहम योगदान निभाती है, क्योंकि यह कफ साफ करने में मदद करती है। मिश्री के सेवन से जल्द आराम मिलता है। अगर आपको भी खांसी हो तो मिश्री को मुंह में रखें और उसका धीरे-धीरे रस लेते रहें और बाद में चबा लें। ऐसा करने से आपका गला ठीक रहता है। वही आपने मुंह का स्वाद ठीक करने के लिए ही मिश्री का इस्तेमाल किया होगा, लेकिन मिश्री आपके दिमाग के लिए भी बेहद ठीक है।

इसी के साथ मिश्री के नियमित सेवन से आपकी यादाश्त बढ़ती है और दिमाग की थकान भी दूर होती है। वहीं अगर आप इसका सेवन अखरोट के साथ घी में फ्राई करके करेंगे तो आपको ढेर सारे फायदे होंगे। मिश्री के साथ बादाम, सौंफ और काली मिर्च खाने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ती है। इसके लिए 100 ग्राम बादाम, 100 ग्राम मिश्री, 50 ग्राम सौंफ और 25 ग्राम काली मिर्च लें और इनका पाउडर बनाकर लें। हर रोज रात को दूध के साथ यह पीने से आपकी आंखों की रोशनी बढ़ जाती है।