भारत की इस जगह पर एक साथ देखिए दुनिया के सातों अजूबे

क्या आप दुनिया के सातों अजूबों का दीदार करना चाहते हैं? अगर हां, तो अब आपको इसके लिए उन देशों में जाने की आवश्यता नहीं पड़ेगी, जहां सभी सातों अजूबे मौजूद हैं। अब आप भारत में ही इन सभी अजूबों को देख पाएंगे। जी हां, राजधानी दिल्ली के सराय काले खां बस टर्मिनल के पास वंडर्स ऑफ द वर्ल्ड पार्क तैयार हो चुका है। जल्द ही ये पार्क जनता के लिए खोल दिया जाएगा। इस पार्क में आप दुनिया के सभी सात अजूबों की रेप्लिका यानि प्रतिरूप देख पाएंगे। इस पार्क की खास बात ये है कि इसमें बने सभी सातों अजूबे कबाड़ और रद्दी से बने हैं।

क्या ख्याल है इस ताजमहल के बारे में?

ये ताजमहल भले ही आगरा के ताजमहल की तरह संगमरमर से ना बना हो, लेकिन खूबसूरती के मामले में ये आगरा के ताजमहल से ज़रा भी कम नहीं है। इस ताजमहल की सबसे खास बात हैं इसकी मीनारें, जो साइकिल के पुर्जों से बनी हैं।

गीजा के पिरामिड भी दिखेंगे

इस पार्क में आने वाले लोगों को गीजा के महान पिरामिड भी देखने को मिलेंगे। ये भी कबाड़ से ही तैयार किए गए हैं।

अब दिल्ली में देखिए स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी

इस पार्क मे जाकर लोग स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी भी देख सकेंगे। यानि अब न्यूयॉर्क जाकर स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी देखने की कोई आवश्यकता नहीं।

पीसा की झुकी मीनार भी दिल्ली में

पीसा की झुकी मीनार यानि लीनिंग टावर ऑफ पीसा को भी पार्क में देख पाएंगे। ये मीनार यूं उतनी ऊंची नहीं है, जितनी की असली मीनार है। लेकिन कबाड़ से बनी इस मीनार की ऊंचाई भी तीस फीट है।

ब्राजील का क्राइस्ट ऑफ रीडीमर भी

ब्राजील के शहर रियो डी जेनेरियो में मौजूद ईसा मसीह की मूर्ति बेहद लाजवाब और खूबसूरत है। दिल्ली के वर्ल्ड्स ऑफ वंडर्स में मौजूद ये मूर्ति पुराने आयरन बेंच से तैयार की गई है।

पेरिस का आइफिल टावर

अब आप पेरिस के आइफिल टावर को भी दिल्ली में ही देख सकेंगे। पेरिस में मौजूद आइफिल टावर की ऊंचाई एक हज़ार तिरसठ फीट है। लेकिन यहां पर आप उसकी छोटी रेप्लिका को देख पाएंगे, जिसकी ऊंचाई सत्तर मीटर है।

रोम का कोलोसियम भी

रोम के कोलोसियम की रेप्लिका भी इस पार्क में मौजूद है। इस रेप्लिका के सामने एक बोर्ड लगाया जाएगा, जिस पर ये बताया जाएगा कि इसको बनाने में किस स्क्रैप का प्रयोग किया गया है।

कितनी होगी पार्क को देखने की फीस?

आपको बता दें कि ये पार्क बनाने का आईडिया कोटा से आया है। कोटा में भी ऐसा ही एक पार्क मौजूद है। इस पार्क को बनाने में 7.5 करोड़ रुपए की लागत आई है। पार्क में एंट्री करने के लिए आपको सिर्फ बीस रुपए खर्च करने पड़ेंगे। इस रकम से इस पार्क को मैंटेन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here