सुप्रीम कोर्ट ने तेजस्वी यादव को दिया बंगला खाली करने का आदेश, 50 हज़ार का जुर्माना भी लगाया

राष्ट्रीय जनता दल के नेता और लालू यादव के सुपुत्र तेजस्वी यादव की उस याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है, जिसमें उन्होंने सरकारी बंगले को खाली करने के पटना हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी थी। जब तेजस्वी यादव बिहार के उप-मुख्यमंत्री थे, उस वक्त ये बंगला उन्हें मिला था। लेकिन पद से हटने के बाद भी तेजस्वी उस बंगले में ही रह रहे थे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब तेजस्वी यादव को ये बंगला खाली करना पड़ेगा।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना व न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने तेजस्वी यादव पर सरकार के फैसले को चुनौती देने की वजह से पचास हज़ार रुपए का जुर्माना लगाया है। आपको बता दें कि जनवरी में पटना हाई कोर्ट ने तेजस्वी यादव को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया था।

तेजस्वी यादव को बिहार सरकार ने बंगला खाली करने का आदेश दिया था, लेकिन उन्होंने बिहार सरकार के आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। आपको बता दें कि ये बंगला बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री सुशील मोदी को आवंटित हुआ है। पिछले साल पांच दिसंबर को कई अधिकारी इस बंगले को खाली कराने के लिए पहुंचे भी थे। उस वक्त तेजस्वी यादव दिल्ली में थे। आपको बता दें कि ये विवादित बंगला पटना के देशरत्न मार्ग पर स्थित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here