कोरोना के मरीज़ से बस कुछ मिनट की बात आपको भी बना सकती है बीमार

हाल ही में किये गए अध्ययन में हुआ खुलासा

पूरा देश आजकल कोरोना वाइरस महामारी से लड़ रहा है। हर जगह बीमारों और मौतों की संख्या में भारी मात्रा में इजाफा देखा जा रहा है। खुद भारत में ही कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख के पार पहुंच चुकी है। और अभी भी यह संख्या बढ़ती ही जा रही है। क्योंकि अभी किसी भी तरह की वेक्सीन या कोई भी ऐसा कारगार तरीका नहीं ढूँढा गया है जिससे की कोरोना महामारी पर विराम लगाया जा सके। भले ही बहुत से देशों या मेडिकल संस्थानों ने इसकी वेक्सीन बनाने का दावा किया हो लेकिन अभी कुछ भी सबूत के तौर पर सामने नहीं। जिससे की प्रमाणित हो जाये की फलां वैक्सीन कोरोना वाइरस से लड़ने में मदद करेगी।

कोरोना के इस भयावह मंजर के बावजूद भी वैज्ञानिक अपने शोधों और अध्ययनों में लीन हैं ।और समय समय पर हमें कुछ ऐसी बातें भी बता रहे हैं जो आम आदमी को सोचने और समझनें पर काफी मजबूर कर देगी। इसी क्रम में हुए एक अध्ययन में पता चला है कि हम सभी के शरीर से निकलने वाली द्रव्य की बूंदें, जैसे छींक और खांसी की बूंदें, बोलते समय थूक निकल जाना, सांस लेते समय भी बेहद छोटी बूंदें हवा में निकल जाती है। और जब आप किसी कोरोना वाइरस संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आते हैं तो इसकी वजह से स्वस्थ व्यक्ति कोरोना वायरस से पीड़ित हो सकता है। हाल ही में हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आयी है की खांसी और छींक समेत अन्य माध्यमों से आपके शरीर से निकलने वाली बूंदें आपको दस मिनट में कोरोना वायरस से संक्रमित कर सकती हैं। जो की अपने आप में बहुत ही भयावह है। शायद इसी वजह से कोरोना मरीज के पास किसी भी अनावश्यक व्यक्ति का रहना उस स्वस्थ व्यक्ति के लिए बहुत ही घातक सिद्ध हो सकता है।

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें की साच्यूसेट्स यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक एरिन ब्रोमेज के द्वारा एक ऐसी फ़ार्मुकले को तैयार किया गया है जिसके अनुसार कोरोना वायरस का संक्रमण व्यक्ति को कितना संक्रमित करता है, यह उस व्यक्ति के संक्रमित जगह पर बिताए गए समय से निर्धारित होगा। तो साफ़ साफ सीधी बात यह है की आप और हम घर में जितना रहें उतना ही सुरक्षित रहेंगे। वरना बाहर जाना हम सभी के लिए बहुत ही जानलेवा और घातक सिद्ध हो सकता है। और अभी तक का सबसे कारगर उपाय सोशल डिस्टेंसिंग ही है। जो हर कोई पहल कर सकता है। तो आप भी अपने घर में रहिये और तभी खुद को सुरक्षित सुनिश्चित कर सकते हैं।