धरा गया सैक्स रैकेट का मुखिया, मां-बहन भी करती थी मदद, बोली- हमने कुछ गलत नहीं किया

हाल ही में एक ऐसा सेक्स रैकेट सामने आ रहा है, जिसमें पूरा परिवार शामिल था. इस सैक्स रैकेट ने मां और बेटी दोनों को ही अपने चुंगल में ले लिया. इतना ही नहीं बल्कि उनका बेटा भी जिस्म का सौदागर बन गया.

जब इतने से भी काम न चला तो फिर शुरू हुआ युवतियों को अपने जाल में फंसाने का खेल. नौकरी के नाम पर सम्पर्क साधकर उन्हें जिस्मफरोशी के इस दलदल में धकेल दिया जाता था.

यह चौंकाने वाला मामले का खुलासा राजस्थान की सीकर पुलिस (Sikar Police) ने किया है. इस सैक्स रैकेट का सरगना, उत्तरप्रदेश के मेरठ का रहने वाला है. आपको बता दें कि गिरोह पर सीकर की भी दो लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर उनसे भी वेश्यावृति करवाने का आरोप है.

ये भी पढ़ें : पति ने दिया धोखा तो महिला ने काट दिया उसका प्राइवेट पार्ट, फिर पका दिया नूडल्स के साथ

सीकर पुलिस उपाधीक्षक गिरधारी लाल शर्मा से बातचीत करने के दौरान यह बात सामने आई कि आरोपी दीपक को यूपी के मेरठ से पकड़ा गया है. आरोप है कि मेरठ में आरोपी दीपक व उसकी मां व बहन वेश्यावृति का धंधा (Sex Racket) चलाते हैं. बहरहाल आपको बता दें कि यह परिवार युवतियों को नौकरी का झांसा देकर मेरठ (Meerut) बुलाकर बंधक बना लेते थे और फिर उन्‍हें इस जिस्मफरोशी के धंधे में उतार देते थे.

पुलिस के मुताबिक यह मामला 2017 का है. युवतियों को बरामद करके अब तक छह आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. इस सेक्स रैकेट के मुख्य सरगना दीपक को अब पकड़ गया है. आरोपी अथाह सम्पति का मालिक है. मुख्य बाजार में दुकान व खुद का फ्लैट है. बच्चे भी अच्छे स्कूल में पढ़ते हैं.

पुलिस ने आरोपी दीपक को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मां और बेटी दोनों ही फरार हैं. आरोपी को पुलिस ने न्‍यायालय में पेश किया, जहां से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है.