अखिलेश का योगी सरकार पर हमला, बोलें-छात्रों को डरा रही है सरकार

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर उस वक़्त रोक लिया गया जब वो इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे थे. इसके बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अखिलेश के इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से अराजकता का माहौल पैदा हो सकता था इसलिए उन्हें रोका गया. अखिलेश ने बताया की कुछ अधिकारियों द्वारा उनके घर की कल रात रेकी की गयी और सुबह तड़के अधिकारीयों को उनके घर के सामने बैठा दिया गया. जब वो घर से एयरपोर्ट के लिए निकले तो वो अधिकारी एयरपोर्ट साथ आये जबकि उनको एयरपोर्ट में अंदर आने की इजाज़त नहीं थी.

akhilesh yadav

यूनिवर्सिटी जाने की रोक पर अखिलेश ने योगी सरकार पर हमला करते हुए बोले की ‘घबराई हुई सरकार है ये यूपी की. नौजवान इंतजार कर रहा है कि उसे कब मौका मिलेगा.’एक सरकार जो छात्रों से डर रही है. जो सरकार छात्रों से डर जाए उनके पास कुछ बचा नहीं है. नौजवानों के भविष्य से खिलवाड़ किया है इन्होंने. उन्हें मजबूर किया है कि वो बेरोजगार बने रहें. अधिकारी तो नौकरी वाले लोग हैं. जो ऊपर वाले लोग कहेंगे वो अधिकारी करते हैं.’ वही अखिलेश ने बोला एक तरफ तो ये दावा करते हैं कि यूनिवर्सिटी में पढ़कर लोग यहां तक पहुंचे हैं. एक तरफ गर्व करते हैं तो दूसरी तरफ कहते हैं कि राजनेता यहां नहीं आ सकते.’

ये भी पढ़ें : क्यों हो रही है IPL 2019 का शेड्यूल घोषित होने में इतनी देर? यहां जान लीजिए

आगे बताते हुए उन्होंने कहा की ‘इलाहाबाद यूनिवर्सिटी का कार्यक्रम मैंने बहुत महीनों पहले भेज दिया था. 27 दिसंबर को पहला कार्यक्रम भेजा गया था जिससे कि अगर प्रशासन को कोई दिक्कत या परेशानी आती है, तो वो उनको सूचित कर दे.

एसपी चीफ, बीजेपी को लताड़ लगते हुए कहा की बीजेपी और उनके सभी समर्थक इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के चुनाव को अपने घर का चुनाव समझ रहे थे. सरकार और सभी मंत्री इस चुनाव में लड़ रहे हैं. जब भी मुख्यमंत्री यूनिवर्सिटी गए, उन्होंने अपने लोगों को आदेश दिया कि इस चुनाव में हार नहीं होनी चाहिए. सपा मुखिया ने कहा ‘अधिकारी को ये ही नहीं पता था कि वो क्यों रोकना चाहता है. इनके दिमाग की गंदगी तो कहीं न कहीं निकलेगी. क्या वजह है कि एसपी-बीएसपी के गठबंधन को आपने छछुंदर मान लिया.