इसलिए मां को ऑफिस बुलाते थे तीन मौतों से दुखी रॉबर्ट वाड्रा

विवादित कारोबारी रॉबर्ड वाड्रा आज अपनी मां के साथ जयपुर में ईडी के समक्ष पेश होंगे। इस मौके पर वाड्रा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा। अपने पोस्टमें वाड्रा ने सरकार पर भड़ास उतारते हुए लिखा कि बिना वजह उनकी 75 साल की मां को परेशान किया जा रहा है। बदला लेने वाली ये सरकार कितना नीचे गिर सकती है, ये समझ में नहीं आ रहा है।

रॉबर्ड वाड्रा ने फेसबुक पर अपनी मां के साथ वाली एक तस्वीर भी शेयर की है। राबर्ट वाड्रा ने बताया कि आखिर क्यों उन्होंने अपनी मां को अपने ऑफिस में बुलाना शुरू किया। वाड्रा ने अपनी पोस्ट में लिखा- दुनिया जानती है कि मां ने कार एक्सीडेंट में अपनी बेटी को खोया है और डायबिटीज से जूझ रहा बेटा और पति भी नहीं रहे।

वाड्रा ने आगे लिखा कि तीन अपनों की मौत से मां दुखी थी। इसी वजह से उन्हें दफ्तर बुलाना शुरू किया गया था, ताकि दोनों अपने दुखों में साथ में वक्त बिता सकें। और वो अपनी मां की देखभाल कर सकें।

वाड्रा ने आगे लिखा कि अब उनकी मां को आरोपी बनाया जा रहा है। उनकी छवि खराब की जा रही है। उनके साथ ऑफिस में वक्त गुज़ारने के लिए पूछताछ की जा रही है।

कौन हैं मौरीन वाड्रा?

रॉबर्ट वाड्रा के पिता मुरादाबाद के रहने वाले थे। उनके पिता पीतल के सामान का बिजनेस किया करते थे। जबकि मौरीन मूल रूप से स्कॉटलैंड की रहने वाली थी और दिल्ली के एक प्लेस्कूल में टीचर थी।

2012 में आई इंडिया टूडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, वाड्रा की मां मौरीन उनकी कई कंपनियों में डायरेक्टर रही हैं। इनमें वे कंपनियां भी शामिल हैं जिन्हें साल 2007-08 में रजिस्टर कराया गया था। इन कंपनियों में ब्लू ब्रीज़ ट्रेडिंग, रियल अर्थ एस्टेट, नॉर्थ इंडिया आईटी पार्क्स, स्काई लाइट रियलिटी और स्काई लाइट हॉस्पिटेलिटी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here