इस लड़की की कारस्तानी सुन सभी हैं हैरान, दर्ज हुआ गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में नाम

इस लड़की की तस्वीर देख कर आप भी सोच रहे होंगे कि आखिर क्या हैं इस लड़की में ऐसी खास बात जिसकी तस्वीर तेज़ी से वायरल हो रही हैं. तो आप की जानकारी के लिए बता दें कि ये लड़की अरिज़ोना की रहने वाली जेसिका कॉक्स हैं, जो दुनिया की पहली और इकलौती बिना हाथों वाली पायलट हैं। जेसिका उन सभी के लिए एक मिसाल है जो अपनी ज़िन्दगी से हार मान लेते हैं. ये दुनिया की पहली ऐसी पायलट हैं जो पैरों से विमान उड़ाती हैं.

हाथ न होने के बाद ही जेसिका को पायलट का लायसेंस मिला, जिसकी वजह से उनका नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है. आइए जानते हैं उनसे जुडी और खास बात-

जेसिका कॉक्स का जन्म 1983 में अमेरिका के अरिजोना में बिना हाथों के हुआ था. इस बात से परेशान उनके घर वालों ने उनके लिए नकली हाथ बनवाए। लेकिन 14 साल की होने के बाद जेसिका ने नकली हाथों से दूरी बनाई और अपना सारा काम पैरों से ही करने लगीं। तब से जेसिका अपने सारे काम पैरों से ही करते आ रही हैं.

ये भी पढ़ें  राहुल गांधी से नाराज हुए सुशील मोदी, दर्ज कराया मानहानि का केस

आपको ये जान कर यकीन नहीं होगा, लेकिन जेसिका अपने पैरों का इस्तेमाल हाथों की तरह करती हैं. कार चलाने से लेकर, आंखों में लेंसेस लगाना, स्कूबा डाइविंग और कीबोर्ड पर टाइप करने तक, वो सभी काम अपने दोनों पैरों से करती हैं।

यही नहीं उनकी टाइपिंग स्पीड 25 शब्द प्रति मिनट हैं. मतलब जो काम हम अपने हाथों से करते हैं वो सरे काम जेसिका अपने पैरों की मदद से करती हैं. जेसिका ने 22 साल की उम्र में प्लान उड़ाना सीखा और 3 साल के भीतर ही लाइसेंस हासिल किया।

ये भी पढ़ें : पूनम सिन्हा नामांकन करने लखनऊ पहुंची, राजनाथ सिंह के खिलाफ लड़ेंगी चुनाव